आपकी जीत में ही हमारी जीत है
  • //$(function () { // $(document).on('click', "#scartlink", function (e) { // e.preventDefault(); // //alert('scartlink test'); // $("#showmycartitems").stop().slideToggle("slow"); // if ($('.c-cart a').closest('a').prop('class') == '') { // $(".c-cart a").addClass("active"); // } // else { // $(".c-cart a").removeClass("active"); // } // }); // $(document).on('click', function (e) { // var container = $("div.c-cart"); // $("ul.sub-menu"); // if (!container.is(e.target) && container.has(e.target).length === 0) { // if ($('#showmycartitems').is(':visible')) { // $("#showmycartitems").stop().slideToggle("slow"); // } // // $('#showmycartitems').hide(); // } // }); //});

Editor's Choice:

Share this on Facebook!

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

Indiaonline
Close

Want more stories like this?

Like us on Facebook to get more!
Close

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

रमज़ान इस्लामी कैलेंडर का नौवां महीना होता है। इसे इबादत का महीना माना जाता है और लोग पूरे महीने रोजा रखते हैं। रोजे के दौरान खाने-पीने की पाबंदी होती है। ऐसा माना जाता है इस पाक महीने में अल्लाह अपने बंदों पर रहमतों का खजाना लुटाते हैं। रमज़ान के लिए हर जगह मस्जिदों की साफ-सफाई की जाती है साथ ही हर गली, चौराहे एवं मस्जिदों को रंगीन रोशनी से सरोबार किया जता है। रमज़ान के समय बाजार सेहरी और इफ्तार के सामान से सज जाते हैं चारों ओर खाने की भिन्नी भिन्नी खुशबू, सिकते कबाब, बिरयानी किसी के मुंह में भी पानी ले आने का दम रखते हैं।

रमज़ान मुस्लिम समुदायों का वो त्यौहार है जिसमें मुस्लिम लोग 1 महीने तक उपवास रखते हैं वो केवल सूरज उगने से पहले और सूरज ढलने के बाद ही शाम को भोजन ग्रहण करते हैं इसके बीच में वो पानी की एक बूंद तक नहीं पीते। रमज़ान का महीना पाक महीना होता है। रमज़ान में व्रत के बाद खाए जाने वाले शाम के खाने को इफ्तार कहा जाता है जिसमें विभिन्न प्रकार के भोजन बनाकर साथ मिलकर खाया जाता है। रमज़ान के समय भोजन दो मुख्य भागों में बांटा जाता है। एक सूर्योदय से पहले लिया जाता है और इसे सहरी कहा जाता है। यह एक बहुत ही सरल और स्वस्थ भोजन होता जिसमें इस तरह का भोजन लिया जाता है जिससे दिन भर प्यास कम लगे। इस उपवास में मुख्य रुप से दिन भर स्वंय को उर्जावान रखने और पानी की कमी महसूस ना होने के लिए विशेष रुप बिस्कुट, कुछ केक, जैम इत्यादि के साथ दूध या चाय शामिल की जाती है । कुछ परिवारों में अंडे, दलिया, या पोहा के साथ बहुत सारे फल और सूखे मेवे खाने में शामिल किए जाते हैं। सहरी में कई प्रकार के रसयुक्त, स्वादयुक्त दूध, शर्बत इत्ययादि तरल पदार्थों का सेवन किया जाता है। वहीं रोजा यानि उपवास खत्म करते समय शाम को सूर्यास्त के बाद शर्बत या पानी के साथ खजूर खाकर उपवास खोला जाता है। इसके बाद, लोग एक साथ बैठकर भोजन करते हैं। इस भोजन में अन्य खाद्य पदार्थों के साथ सूखे फल, रंगीन और स्वाद वाले शर्बत और दूध इत्यादि परोसा जाता है। साथ ही लज़ीज व्यंजनों का लुत्फ उठाया जाता है।

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

दुनियाभर के तमाम देशों में रमज़ान के महीने में अलग ही रौनक देखी जा सकती है। हैदराबाद जैसी जगहों पर, लोग हलीम के साथ अपना उपवास तोड़ते हैं क्योंकि यह काफी स्वादिष्ट होता है। दक्षिणी राज्य जैसे तमिलनाडु और केरल में, मुसलमानों नोम्बू कांजी के साथ अपने रोज़ा तोड़ते हैं, यह पदार्थ भी काफी स्वादिष्ट रहता है। उत्तरी दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल जैसे उत्तरी राज्यों में, मुसलमान परिवार और दोस्तों के साथ अपने उपवास तोड़ते हैं, साथ ही ज्यादातर मस्जिदों ने 'इफ्तार' को मुक्त करने का भी आयोजन किया जाता है। आमतौर पर रोज़े को खजूर साथ खोला जाता है, ताजे फल (कभी-कभी चाट के रूप में पेश किया जाता है) और फलों के रस, समोसे आदि जैसे तले हुए व्यंजनों के साथ खोला जाता है। 'इफ्तार' के फैलाव में शाकाहारी से गैर-शाकाहारी व्यंजन और विभिन्न प्रकार के रस और शरबत भी इस्तेमाल किये जाते हैं। मुंबई में रमज़ान में नल्ली निहारी, पाया करी, तंदूरी बटेर, खिरी और कोफ्ता कबाब, सीताफल हलवा और तरबूज का शरबत जैसे व्यंजनों का लुत्फ लिया जा सकता है जबकि कोलकाता में अरबी हलीम, मटन चाप, सुतली तथा खीरी कबाब, रेजाला, रोगनी रोटी, बाकरखानी, घुगनी, हलवा पराठा और खाजला रमज़ान के प्रमुख व्यंजन हैं।

रमज़ान में उपवास रखना प्रत्येक मुस्लिम का फर्ज होता है। दिन भर अल्लाह की इबादत के बाद शाम को घर-परिवार, दोस्त-रिश्तेदारों के साथ इफ्तार किया जाता है जहां सामूहिक रुप से बैठकर व्रती भोजन ग्रहण करते हैं। इफ्तार एक धार्मिक अनुष्ठान है। भारत के प्रत्येक शहर में इफ्तार करने के लिए अलग-अलग भोजन विशेष रुप से बनाए जाते हैं। इफ्तार में मुख्य रुप से पराठा एंव पूरी, चावल, फल और सब्जियों के साथ रसीला कबाब का आनंद लिया जाता है। सूखे फल भी त्यौहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। यह एक ऐसा व्रत है जो मुख्य रूप से मांसाहारी है किन्तु शाकाहारी लोगों के लिए भी खाने के विभिन्न पकवान बनाए जाते हैं। उन्हें व्यंजनों की सूची में शामिल किया जाता है। इफ्तार में मिठाई का होना आवश्यक होता है। कुछ मीठा खाना इफ्तार का नियम है।  भारत में इफ्तार की रौनक देखते ही बनती है। इफ्तार के लिए भारत में कुछ बेहतरीन स्थानों के बारे में हम आपकों अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे हैं जहां आपको एक से बढ़कर एक इफ्तार के पकवान मिलेगें जो आपको उंगलिया चाटने पर मजबूर कर देंगें।

पुरानी दिल्ली

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

भारत की राजधानी दिल्ली अपने नाम की ही तरह अपने खाने के लिए भी बेहद मशहूर है। दिल्ली के पुरानी दिल्ली इलाके की इफ्तार पार्टी का मजा भला कौन नहीं लेना चाहेगा। इफ्तार से संबधित पुरानी दिल्ली से अच्छे व्यंजन और कहीं नहीं मिलेगें।

पुरानी दिल्ली में स्थित जामा मस्जिद के पास के क्षेत्र में इफ्तार का अलग ही रंग देखने को मिलता है। यहां इफ्तार के प्रशंषको को देखकर आप आश्चर्यचकित हो जाएगें। जामा मस्दिज में इफ्तार के दौरान बैठने की जगह पाने के लिए जद्दोजहत करनी पड़ती है। यहां जगह की पहले ही बुंकिग करानी पड़ती है वरना आप इन दिनों में यहां खड़े भी ठीक से नहीं हो पाएगें। इफ्तार के लिए यहां बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होते हैं। नमाज अदा करने के बाद सभी लोग यहां बैठकर इफ्तार का आनंद लेते हैं।

दिल्ली में कुछ बेहतरीन जगहें  भी है जहां के इफ्तार व्यंजन बहुत प्रसिद्ध है।

करीम (करीम होटल)

संपर्क करें-
16, गाली कबाबियन, जामा मस्जिद, नई दिल्ली
दो लोगों के लिए लगभग 800 रुपय

यह पाक स्वाद के मामले में शहर के सबसे लोकप्रिय स्थलों में से एक है। यह दिल्ली की संकीर्ण और पुरानी सड़कों में स्थित है और आप निश्चित रूप से यहां सबसे अच्छे इफ्तार जश्न का आनंद ले सकते हैं। इसमें मटन बुरा, मटन कौरमा, भेजा करी, चिकन मुगलई, घोस्ट करी, नाहारी और चिकन जहांगीरी इत्यादि मुंह में पानी लाने वाले व्यंजन शामिल है। इसके अतिरिक्त इफ्तार के समय हर दिन यहां कुछ ना कुछ विशेष परोसा जाता है जो केवल रमज़ान के समय ही आपको चखने को मिलेगा। कोई ऊब ना जाए इसलिए यहां व्यंजनो की विविधता रहती है।

अशोक और अशोक मांस ढाबा

संपर्क करें-
5820/42, सुभाष चौक, सदर थाना, सदर बाज़ार, आज़ाद मार्किट के पास, नई दिल्ली
दो लोगों के लिए भोजन 500 रुपय

यहां भोजन एक त्योहार के रुप में परोसा जाता है। यहां के व्यंजनो में इफ्तार के समय बिरयानी और अन्य खाद्य पदार्थों में शुद्ध घी का प्रयोग किया जाता है। व्यंजनो को उत्कृष्ट गुणवत्ता प्रदान करने के लिए ही देसी घी का उपयोग किया जाता  हैं। यहं के व्यजनों की सूची निर्धारित है किन्तु लज़ी है यहां मुख्य रुप से करी (मटन और चिकन) रोटी के साथ बिरयानी (मटन और चिकन) भी शामिल है। तो आप अपने भोजन को पूरा करने के लिए यहां जाने से पहले घर से फल और सूखे मेवे लेकर यहां जा सकते हैं।

अल जवाहर

संपर्क करें-
8, जामा मस्जिद मटिया महल रोड, मटिया महल, गेट 1 के सामने, जामा मस्जिद, नई दिल्ली
दो लोगों के लिए 800 रुपये।

ऐसा कहा जाता है कि रमज़ान वास्तव में निहारी के साथ पूरा नहीं हुआ है और यह जगह खमेरी रोटी के साथ निहारी के सबसे स्वादिष्ट और मजेदार काम करती है। यह रमज़ान के दौरान और यहां तक कि सबसे पुरानी दिल्ली रेस्तरां में से एक है।

हाजी शबराती निहारी वाला

संपर्क करें-
दुकान 722, हवेली आजम खान, चितली कबर, जामा मस्जिद, पुरानी दिल्ली
दो लोगों के लिए भोजन 350 रुपये।

यह शहर का सबसे पुराना भोजनालय है जो कुछ ताजा अच्चे मांस के व्यंजन पेश करता है। यहां के प्रमुख व्यंजनों में भैजा निहारी, नल्ली निहारी और पाया निहिरी शामिल हैं। इन सभी को स्वादिष्ट मसालों में पकाया जाता है। जो आपके इफ्तार को पूरा कर देंगे।


मुंबई

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

रमज़ान के समय रात में मुंबई नगरी सोती नहीं हैं। यहां आप किसी भी रात को, मोहम्मद अली रोड, जे जे फ्लाईओवर के पास चले जाएं यह सबसे लोकप्रिय घूमने की जगहों में से एक हैं। जहां इफ्तार करने का अपना ही मज़ा है। यहां के आस-पास के क्षेत्र इफ्तार करने के लिए बहुत प्रसिद्ध एवं बढ़िया हैं। यहां एक से बढ़कर एक खाने के व्यंजन आपको मिल जाएगें। यहां खाने में चिकन, मटन और मांस आदि मुख्य रुप से शामिल हैं। वहीं निश्चित रूप से कुछ पांरपरिक व्यंजन भी यहां परोसे जाते हैं जिनमें कबाब और कोरमा प्रमुख है। जिनके लिए मुंबई प्रसिद्ध है। मोहम्मद अली रोड पर आप इफ्तार भोजन के लिए स्वादिष्ट दूध से लेकर रोल या बिरयानी तक सबकुछ प्राप्त कर सकते हैं।

फारस दुबर

संपर्क करें-
फारस दरबार जोगेश्वरी, मुंबई

6-7, लिली टॉवर सीएचएस लिमिटेड, आरबी शर्मा सेंटर, एस वी रोड, जोगेश्वरी वेस्ट, मुंबई
यह पश्चिम मुंबई में स्थित है और यह जगह मांसाहारी भोजनों के लिए बहुत लोकप्रिय है। विशेष रूप से मुर्ग जाफरानी, कबाब रब्दी के साथ एक लोकप्रिय पकवान है। रमज़ान के महीनों के दौरान यहां हमेशा भीड़में होती है। यहां भीड़ की भागदौड़ से बचने के लिए समय से पहुंचना बहुत अच्छा है ताकि आप यहां के लज़ीज पकवानों का लुत्फ उठा सकें।

बार-बी-क्यू कॉर्नर

संपर्क करें-
बार-बी-क्यू कॉर्नर बायकुला, मुंबई,
खारा टैंक रोड, मोहम्मद अली रोड, बायकुला, मुंबई

यह एक और इफ्तार विशेषता रेस्तरां है जो कभी भी खाली नहीं रहता, यहां भीड़ लगी ही रहती है। यहां आप खेरी-कलेजी के साथ मुंबई के कुछ बेहतरीन कबाब खा सकते हैं। यहाँ कीमतें बहुत ही सस्ती है और स्वाद लाजवाब है। यहां अच्छे से अच्छा खाना आपको मात्र 55 रुपय में मिल जाएगा। आप केवल 55 रुपय में मटन सेख और खारी प्राप्त कर सकते हैं।

शालीमार

संपर्क करें-
शालीमार बाकुल्ला, मुंबई,
वाजिर बिल्डिंग, शालीमार कॉर्नर, भिंडी बाजार, संधर्स्ट रोड, बायकुला, मुंबई

भिंडी बाजार में स्थित, यह एक हलचल वाला वाणिज्यिक क्षेत्र है जहां चहलकदमी होती रहती है। परिवार के लोगों के साथ आप उत्तर भारतीय व्यंजनों जैसे कि कोर्मा और भैजा फ्राई के साथ यहां कुछ कबाबों को आसानी से आजमा सकते हैं। मुंह में पानी ला देने वाली बिरयानी एक और स्वादिष्ट व्यंजन है। यहां खासतौर पर रायन बिरयानी या लैंब को खा सकते हैं।


कोलकाता

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

भारत का पूर्वी राज्य कोलकाता अपने पूरे शहर में रमज़ान मनाता है। यहां आपकों मुस्लिम दुकानदार हर समय मिल जाएगें। जो अपने भोजनों को गैर-मुसलमानों के साथ भी साझा करते हैं। वास्तव में यहां के कई भोजनालय सभी पृष्ठभूमि से आए लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए एक विशेष इफ्तार भोजन की मेजबानी करते हैं। चूंकि फल के साथ ताजा मांस आसानी से उपलब्ध होता है, इसलिए फैलाव हमेशा भव्य होता है। इफ्तार भोजन के लिए जाने से पहले ज्यादातर लोगों के पास अपने स्टोर या कार्यालयों में उनके फल और दूध होते हैं। कोलकाता में इफ्तार के भोजन केवल पांरपरिक रुप तक ही सीमित नहीं है बल्कि यहां और भी कई तरह के भोजन मिलते हैं। इनमें पुछका, मुरी के साथ मिष्टी दोई, रोसोगुल्ला, माझर झोल भी शामिल होता है। यहां सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक अलियाह शामिल है, जो बेंटिनक स्ट्रीट पर एक छोटी सी जगह है। मोंटेन रेज़ला, मुलायम रोटी और बिरयानी के साथ लज़ीज भोजन परोसता है। यहां अंडा और आलू लगभग सभी इफ्तार व्यंजनों के साथ परोसे जाते हैं।

ज़कारिया स्ट्रीट में रेस्टोरेंट

संपर्क करें-
147, रवींद्र साराणी, बारा बाजार, कोलकाता

नाखोदा मस्जिद के नजदीक ज़कारिया स्ट्रीट में स्थित कुछ सबसे विचित्र और पौराणिक दुकानें हैं जो एक विशेष इफ्तार दावत तैयार करती हैं। 'विशेष अमीनिया हलीम' केवल वर्ष में एक बार इफ्तार के समय ही यहां आपको खाने को मिल सकता है यह केवल इफ्तार के समय ही बनाया जाता है। जकरिया स्ट्रीट से दूर एक टैड रॉयल इंडिया होटल नामक एक भोजनालय है। यहां आपको मटन चाप के साथ अन्य व्यंजनों का चयन भी मिलता है। ये इतने स्वादिष्ट होते कि आप अपने उपवास को और अधिक जल्दी तोड़ने की प्रतीक्षा में रहते हैं ताकि जल्दी उपवास खत्म हो और आप इन पकवानों का मजा ले सकें।

कोलूटोला मस्जिद में खाने की दुकान

रमज़ान के दौरान कोलूटोला मस्जिद के चारों ओर स्थापित विशेष खाद्य स्टाल हैं जो स्थानीय मांस की तैयारी की एक श्रृंखला प्रदान करते हैं जो स्थानीय लोगों की पहली पंसद है। यह आपके सभी इफ्तार जरूरतों के लिए एक पूर्ण गंतव्य है। यहां आपको सब कुछ मिल जाएगा। आप भुना हुआ चिकन और खेरी कबाबों को आजमा सकते हैं। यहां स्टालों की एक और विशेषता है रीसाला नामक मसालों में मांस को पकाया जाता है जो उसे और स्वादिष्ट बनता हैं। शाही तुक्का यहां का एक और विशेष पकवान है।

रहमानिया

रहमानिया बिरयानी और हलीम जैसे उंगली चाटने को मजूबर करने वाले खाद्य पदार्थों के चयन के लिए सबसे लोकप्रिय जगह हैं। आप इनके शहर में कई अन्य शाखाएं पा सकते हैं लेकिन यह सबसे लोकप्रिय शाखाओं में से एक है। यहां एक लंबी कतार का सामना करने के लिए तैयार आपको तैयार रहना पड़ेगा। लाइन में लगने के बाद, ही आपकों यहां के लज़ीज व्यंजन खाने को मिल सकते हैं इसके लिए आप में प्रतिक्षा करने की क्षमता होनी चाहिए।

संपर्क करें-
रहमानिया
पार्क स्ट्रीट एरिया- 56, पार्क स्ट्रीट, पार्क स्ट्रीट एरिया, कोलकाता
2 के लिए मात्र 500 रुपय


हैदराबाद

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

इफ्तार से जुड़ा नवाबी शहर हैदराबाद में सब कुछ मिलेगा जो कहीं नहीं मिलेगा। हैदराबाद का इफ्तार पूरे भारत में प्रसिद्ध है। यहां स्वादिष्ट बिरयानी तो है ही वो भी एक नहीं 40 किस्मों की। साथ ही यहां हल्लीम भी बहुत प्रसिद्ध है। हैदराबाद एक ऐसा शहर है जो राजाओं के लिए प्रसिद्ध था यहां नवाबों का राज था जिसके कारण यहां के रमज़ान के समय में व्यंजन भी शाही रुतबा रखते हैं। इफ्तार के लिए यहां सबसे लोकप्रिय भोजनालयों में से कुछ प्रमुख हैः

पिस्ता हाउस

संपर्क करें-
कोटला अलीया, मुगलपुर, हैदराबाद, तेलंगाना 500002

यह एक ऐसा स्थान है जो हैदराबादी हल्लीम के लिए सबसे ज्यादा जाना जाता है। यह यहां का एक प्रसिद्ध भोजन है जिसे यूरोप, अमेरिका और कनाडा के साथ मध्य पूर्व के कई देशों में भी निर्यात किया जाता है। पिस्ता हाउस अच्छी सेवा और शीर्ष भोजन के साथ अपने भोजन को पूरा करने के लिए मीठे व्यंजनों की एक श्रृंखला भी प्रदान करता है।

होटल शदाब

संपर्क करें-
22-71 पुरानी मुंबई रोड, लिंगमल्ली, तारा नगर, चंदनगर,
हैदराबाद, आंध्र प्रदेश 50001 9

यह मिठाइयों के लिए सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक है। यहां आप कंबानी-का-मेथा के साथ मुलायम और पिघलने वाली रोटी पर अपने हाथ रख सकते हैं। यह जगह इफ्तार और सहरी दोनों के लिए प्रसिद्ध है। मीठी विशिष्टताओं के साथ-साथ आपको मांसहारी भोजन भी यहां विशेष रुप से मिल जाएगा। यहां का प्रमुख भोजन बिरयानी है जो कई रुपों में आपको खाने को मिलेगी।

मदीना होटल

संपर्क करें-
पादरगट्टी आरडी, रिकाब गुंज, घांसी बाजार,
हैदराबाद, तेलंगाना 500066

हैदराबाद के शहर में यह एक और लोकप्रिय जगह है। बिरानियों और स्थानीय मांस की तैयारी जैसे क्लासिक्स के साथ आप रमज़ान महीनों के दौरान मीठे व्यंजनों का वर्गीकरण भी यहां प्राप्त कर सकते हैं। यहां के मटन बहुत स्वादिष्ट और रसीले होते हैं जो आपका दिल खुश कर देंगें।


बेंगलुरु

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

बेंगलुरू जिसे 'सिलिकॉन घाटी' भी कहा जाता है यह किसी भी खाद्य प्रेमी के लिए और रमज़ान के महीनों के दौरान सबसे अच्छी जगह है। यहां हर किसी के लिए कुछ ना कुछ अवश्य मिलेगा। रमज़ान के दौरान इफ्तार के व्यंजन यहां पूरे शहर भर में फैले हुएं होते हैं जो आपकी शाम को और अच्छा बना देंगे।

मस्जिद रोड में स्टाल

फ्रैज़र शहर के नजदीक मस्जिद रोड पर सस्ती कीमतों पर शीर्ष गुणवत्ता वाले रमज़ान के भोजन यहां आपको मिल जाएगें। यहां कीमा रोल और चिकन स्टिक पेश किए जाते हैं जो स्वादिष्ट होते हैं और जल्दी से खाए जा सकते है। इसके बाद कई पेय पदार्थ भी यहां दिए जाते हैं जिनमें दूध शर्बत, गुलाब फलुदा, मटका फिरनी और स्ट्रॉबेरी पनीर केक और प्रसिद्ध शाही टुकड़ा इत्यादि बहुत प्रसिद्ध है। इस मौसम के दौरान पकवानों के रुप में चिकन समोसा, कीमा पराठा, बिरयानी, कबाब, काठी रोल इत्यादि शामिल किए जाते हैं। जो हर आगंतुक के लिए पर्याप्त होते हैं। इसलिए आपको क्या खाना है इसके लिए स्टॉल की जांच पहले ही कर लें।

अल्बर्ट बेकरी

संपर्क करें-
अल्बर्ट बेकरी फ्रैज़र टाउन, बैंगलोर, भारत का पता
9 3, मस्जिद रोड, फ्रैज़र टाउन, बैंगलोर

चहलकदमी के बीच यह एक छोटा भोजनालय है जो इफ्तार के समय प्रसन्नता से भरा हुआ होता है। यहां आप कुछ ऐसा कर सकते हैं जो महाद्वीपीय प्रसन्नता के साथ प्रामाणिक है। लोकप्रिय वस्तुओं में भोज या भैजा फ्राई का आप लुत्फ उठा सकते हैं।

एमएम रोड

एमएम रोड पर इफ्तार के दौरान सबसे लोकप्रिय और अक्सर दौरे वाले स्थानों में दो प्रमुख स्थान है । उनमें से एक जायका है जो 7 विदेशी प्रकार के मटन व्यंजन पेश करता है और दूसरा रहमास है जिसमें 31 तंदूर पकाए गए व्यंजनों की भारी संख्या है। सूची में कुछ विदेशी वस्तुएं हैं जिन्हें आप वास्तव में कल्फी कबाब, खट्टा मिठा कबाब और कलमिच कबाब सहित खाने में शामिल कर सकते हैं।

जायका
65, एम एम रोड, पास-इस्माइल सैट मस्जिद, फ्रैज़र टाउन,
बेंगलुरु, कर्नाटक 560005

रहमास

82, एमएम रोड, फ्रैज़र टाउन, बैंगलोर


श्रीनगर


भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

श्रीनगर में इफ्तार वाली जगहों और मस्जिदों के स्थानों पर दोस्तों और परिवार के साथ इफ्तार करने के लिए बहुत प्रसिद्ध है। यहां सबसे लोकप्रिय और देखी गई जगहों में से कुछ में हजरतबल, सम्मानित मंदिर के पास सड़कें शामिल हैं। यहां के  पसंदीदा इफ्तार भोजन इसकी हल्वा-परांठा संयोजन है। ये कोई आम पराठा नहीं हैं यह तला हुआ होता हैं और शुद्ध घी से बने हलवा के साथ परोसा जाते हैं। स्थानीय बेकरी में भी सेवरी ब्रेड और मिठाई उपलब्ध होंती है जो बहुत ही स्वादिष्ट होती है।

7 कैफे

संपर्क करें:
संगर्माल सिटी सेंटर, एम रोड, श्रीनगर 1 9 0001

7 कैफे एक समकालीन प्रकार का विषयकृत रेस्तरां है जो इफ्तार का प्रसन्नता से स्वागत करता है। यहां अन्य इफ्तर व्यंजनों के साथ गुणवत्ता वाले समुद्री भोजन प्रदान करने के बारे में प्रसिद्ध है। 

अहदौस होटल

संपर्क करें-
रेजीडेंसी रोड

यह जगह मुगलई खाने की प्रसन्नता के साथ क्लासिक कश्मीरी भोजन परोसती है। आप अपने फल और भव्य भोजन के लिए तिथियां निर्धारित करने के बाद यहां जा सकते हैं।


लखनऊ

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

नवाबों के शहर लखनऊ में आज भी कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जो परंपरागत रुप से बैठे के इफ्तार भोजन कराते हैं जबकि अन्य समकालीन रेस्तरां विषयों और विचारों की पेशकश करते हैं। यहां का त्यौहार इफ्तार के बाद शुरू होता है और लंबे समय तक चलता रहता है। फल यहां के इफ्तारों की विशेषता है क्योंकि वे आसानी से उपलब्ध हैं, विशेष रूप से आम जो हमेशा से एक लोकप्रिय फल है इसे इस समय खूब चाव से खाया जाता है। इसके साथ में, इफ्तार में क्लासिक कुल्चा, पराठा, रोटी, बिरयानी, कबाब, मीट इत्यादि शामिल किए जाते हैं। लखनऊ अपने विशेष चटक इफ्तार के लिए बहुत प्रसिद्ध है। विशेष रूप से दाल और आलू के साथ फल चाट यहां सबसे प्रमुख है। यहां आप कल्फी, निहारी, शर्मनाल, पाया, फ़िरनी इत्यादि जैसे कई मुंह में पानी ला देने वाले पकवानों का लुत्फ उठा सकते हैं। यहां इफ्तार में पकौड़े भी विशेष रुप से पकाए जाते हैं जो दूध फेनी के साथ परोसे जाते हैं। अकबर गेट और ऐशबाग इदगाह के आसपास के इलाकों में अक्सर रमज़ान के दौरान दूर-दूर से लोग आते हैं।

कैसिया

संपर्क करें-
एलजीएफ, रोहतस के के ट्राइडेंट, राणा प्रताप मार्ग, हजरतगंज, लखनऊ

हजरतगंज में स्थित यह उन स्थानों में से एक है जो सब कुछ प्रदान करता है। आप व्यंजनों के स्टॉल से भोजन चुन सकते हैं या ए-ला कार्टे मेन्यू के लिए जा सकते हैं। यह उन जगहों में से एक है जो परंपरागत मीट और कबाब से अलग कुछ खाना चाहते हैं। यह उन्हीं लोगों के लिए एक लोकप्रिय संयुक्त के रूप में विकसित हुई। लेकिन जो कुछ अलग खाना चाहते हैं उन्हें भी यह जगह निराश नहीं करेगी।

वाहिद बिरयानी

संपर्क करें-
बंडे केबबी, अमीनबाद बाजार, अमीनबाद, लखनऊ के बगल में

नमाज  के बाद बिरयानी के लिए यह सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक है। लखनऊ के क्लासिक स्वादों के स्पर्श के साथ यहां भोजन रसीला होता है। कीमतें सस्ती हैं और स्वाद उच्च होता है। आप कोरमा और करी के साथ मांसाहारी व्यंजनो को खा सकते हैं। यहां कबाबों को एक श्रृंखला से चुन सकते हैं। यहां सबके लिए कुछ ना कुछ है।

अहमदाबाद

भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

यह अन्यथा एक दीवार वाला शहर कहा जाता है लेकिन जब इफ्तार की बात आती है तब अहमदाबाद स्वाद को पिघलाने वाला बर्तन बन जाता है। जो आकाश में धूमकेतु तारे के समान इफ्तार के समय चमकता है। रमज़ान के समय यहां आने के लिए बहुत सारे स्थान हैं जिन्हें आप शायद गिन-गिन कर थक जाएंगे। यहां कई पकवान है जिनमें सबसे मशहूर एक हेल शामिल है जो मटन और मसूर के साथ बनाया जाता है। हाथों का मजा चखने के लिए जामा मस्जिद के पास स्टॉल है। यदि आप कुछ और चाहते हैं तो शाह-ए-आलम दरगाह के पास किमा परांठा को बेचने वाले स्टालों पर जा सकते हैं। यहां एक और सड़क पक्ष का उद्यम खास बाजार में भाटारा गली है। जिसमें सबसे स्वादिष्ट साधक कबाब और नान सिली गोश्तस चिकन दाना के साथ परोसे जाते हैं। आखिरकार जमालपुर में शीतल आइसक्रीम से कुछ मीठा के साथ आप अपने इफ्तार की शाम को खत्म कर सकते हैं। जिसमें फालुदा और सरासर खुर्मा जैसी मिठाईयां भी शामिल हैं।

शाही मसाला

संपर्क करें-
इलेक्ट्रिकिटी हाउस, रिलीफ रोड, अहमदाबाद के विपरीत

यह आपके विशिष्ट आलीशान दुकनों में से एक नहीं है, लेकिन यह एक ऐसी जगह है जो रमज़ान के दौरान लगभग हर चीज की सेवा प्रदान करती है। आप यहां एक से बढ़कर एक मीठे और लज़ीज मसालेदार पकवानों का स्वाद चख सकते हैं।

बाराह हांडी

संपर्क करें-
पता: कलूपुर पुलिस स्टेशन, अहमदाबाद, भारत के पास

यहां के प्रमुख व्यजंनों में से एक बाराहा हांडी है जो एक पारंपरिक पकवान है जिसमें 12 बर्तन (हांडी) शामिल किए जाते हैं जो लकड़ी की ईंधन वाली आग का उपयोग करके बनाए जाते हैं इनमें से प्रत्येक 12 बर्तन में 12 विभिन्न मांसों को पकायचा जाता है। यह रात भर हल्की आंच पर पकाए जाते हैं। आप इन 12 मीटों में से किसी एक को चुन सकते हैं या कुछ ऐसा चुन सकते हैं जिसे भेल या इन 12 ग्रेवियों और कटों के मिश्रण के रूप में जाना जाता है।

दरगाह के चारों ओर सड़कों पर

शाहर-ए-आलम दरगाह इफ्तार के दौरान एक होने का स्थान है। यहां आप विभिन्न प्रकार के स्टालों को ढूंढ सकते हैं जो आपको सभी इफ्तार भोजन प्रदान करते हैं। इसमें फल, तिथियां, सूखे फल, मसाला दूध, पराठा, बिरयानी आदि शामिल हैं। यहां के पकवानो के विभिन्न रुप आपको पागल कर सकते हैं।
626
  • SHARE THIS
  • TWEET THIS
  • SHARE THIS
  • COMMENT
  • LOVE THIS 0

Related Links

Comments / Discussion Board - भारत में इफ्तार के सर्वश्रेष्ठ स्थान

Loader