Editor's Choice:

about tourism भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

Share this on Facebook!

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

Indiaonline
Close

Want more stories like this?

Like us on Facebook to get more!
Close

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

ऊंची-ऊंची समुद्र की लहरें और उनके बीच मछलियों संग तैरना भला किसे पसंद नहीं होगा। अब तक आपने कई तरह के खेल खेले होंगे। किन्तु समुद्र की गहराई में तैरने और समुद्री जीवों संग बाते करने का अनुभव शब्दों में बयां कर पाना बहुत मुश्किल है। रंग-बिरंगी मछलियों, कछुवों और अन्य समुद्री जीवों के बीच नीले गहरे पानी में समुद्र की लहरों को चीरते हुए तैरने का अपनी ही एक अलग मज़ा है। भारत में कई ऐसी जगह जहां एडवेंचर्स लावर्स यानि रोमांचकारी खेलों के प्रेमियों के लिए उपयुक्त है किन्तु भारत के समुद्री तट किसी अन्य विदेशी तटों से कम नहीं है। यहां खेले जाने वाले कई रोमांचकारी खेल अपमें जोश औऱ उमंग भरने का काम करेगें। आप एक बार फिर खुलकर अपने लिए जीने पर विवश हो जाएगें। जिन्दगी के सबसे शानदार पलों में से एक पानी के बीच तैरना होता है। हम में से कुछ लोग लहरों में उतरते हैं, उनसे टकराते हैं और उनके साथ खेलना पसंद करते हैं। यदि आप समुद्री तटों और रोमांचकारी खेलों के शौकिन है तो यकिन मानिए भारत की यह जगह आपको निराश नहीं करेंगी। आप यहां समुद्री कछुओं, जेली मछलियों, डगोंग और रंगीन मछलियों को देखने और साथ तैरने का आनंद ले सकते हैं। भारत में अंडमान निकोबार, गोवा, लक्षदीप, केरला, कर्नाटका इत्यादि जैसी कई समुद्री स्थल हैं जहां एक से बढ़कर एक रोमाचंकारी खेल खेले जाते हैं। स्कूबा डाइविंग, स्नॉर्कलिंग आदि जैसे साहसी गतिविधियों के बारे में सोच कर ही हमारा रोम-रोम खिल उठता है। यदि आप अपने एड्रेनालाईन हार्मोन कोपम्पिंग पसंद करते हैं, तो यह समुद्री तट स्कूबा डाइविंग के लिए ये अद्भुत स्थान है।


भारत में बंगाल की खाड़ी, हिंद महासागर और अरब सागर से पूर्व में दक्षिण से पश्चिम तक 7,000 किमी से अधिक की दूरी पर फैली एक आश्चर्यजनक तट रेखा है। यह अद्भुद तटरेखा कुछ शानदार प्राकृतिक सौन्द्रय को स्वंय में समाहित किए हुए हैं। ये समुद्र तट आपको अपने अनोखे और खूबसूरत फूलों और जीवों के साथ उत्साही समुद्र-दुनिया का पता लगाने की एक शानदार यात्रा देते हैं। पानी के अंदर किए जाने वाला सबसे ज्यादा रोमांचकारी खेल स्कूबा डाइविंग है। स्कूबा डाइविंग पानी में तैरने की एक कला है, जिसमें तैराक अपने साथ पानी में सांस लेने वाला एक उपकरण लेकर पानी में तैराकी करता है। इस उपकरण को स्कूबा कहते हैं। इसकी मदद से तैराक ज्यादा से ज्यादा समय तक पानी में रह सकता है। इसके अलवा स्कूबा डाइवर एक खास तरह का डिजाइन किया गया स्विम सूट और पहनता है और पैरों में फिन लगाता है। इसकी मदद से डाइवर को पानी के अंदर का दबाव सहन नहीं करना पड़ता और तैरने में भी आसानी होती है। चो चलिए चलते हैं भारत के समुद्री तटों की एक रोमांचकारी यात्रा पर..


सूजी के मलबे, गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

भारत में समुद्री स्थलों की बात की जाए तो पहला नाम गोवा का ही आता है। गोवा के रुप में समुद्र से घिरा एक स्थल दिखाई पड़ता है जहां एक से बढ़कर एक रोमाचंकारी खेल खेले जाते हैं। गोवा ना केवल पर्यटको के लिए घूमने की सबसे पंसदीदा जगह है बल्कि यह रोमांचकाऱी खेल प्रेमियों की भी सबसे पंसदीदा जगह है। गोवा में सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक जिसे ज्यादातर स्कूबा डाइविंग के स्वर्ग के रूप में जाना जाता है वो है सूजी के मलबे। भारत में स्कूबा डाइविंग की यह जगह केवल पेशेवरों और अनुभवी स्कूबा गोताखोरों के लिए उचित है। शुरुआती लोगों के लिए, उमा गुम्म रीफ अपने शांत पानी और सुई, झींगा, सफेद टिप रीफ शार्क आदि जैसे कई समुद्री जीवों के साथ शुरू करने के लिए एक बढ़िया जगह है। स्कूबा डाइविंग प्रेमियों के लिए सूजी के मलबे का स्थान किसी खजाने से कम नहीं है। यह एक शानदार स्थान है। यहां तक पहुंचने का एकमात्र रास्ता नौका या नौका के माध्यम से होता है। साथ ही इस जगह पर नवंबर से मार्च के बीच जाना सबसे उचित समय होता है।


बेट द्वीप समूहः गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

वैसे तो गोवा अपने समुद्री तटों, पार्टी और सनबर्न फेस्टिवल के लिए जाना जाता है। लेकिन ग्रांड द्वीप आपकी धारणा को बदलने वाला है। समुद्र के साथ शुरुआती प्रयासों का अनुभव करना चाहते हैं या समुद्र की मजबूत धाराओं में अपनी सीमाएं बढ़ाना चाहते हैं। तो गोवा, इंडिया में स्कूबा डाइविंग गोताखोरी ग्रैंड द्वीप में यह सब कुछ मोर्मुगास प्रायद्वीप से कुछ किलोमीटर की दूरी पर पश्चिम में स्थित, यह जगह स्कूबा गोताखोरों के लिए एक स्वर्ग है। बेट आइसलैंड को ग्रेंड आइसलैंड के रुप में भी स्कूबा डाइविंग के लिए सबसे बढ़ियां जगह माना जाता है। यह जगह बोगमालो के पास अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से केवल दो किलोमीटर दूर है। समुद्र तट का स्पष्ट नीला गहरा पानी और पानी के भीतर होने वाली गतिविधियां एक रोमांचक अनुभव प्रदान करती है। अगर आपको गोताखोरी से डर नहीं लगता तो यह यात्रा आपके लिए सबसे अच्छी होने वाली है। यहां आपकों स्नोर्केलिंग के लिए लाइफ जैकेट व अन्य यंत्र दिए जाएंगे और आपके साथ एक संचालक मौजूद रहेगा। समुद्री दुनिया की सुंदरता को शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता, इसका अनुभव करने के बाद आप थोड़ी देर तक अपने आप को शांत रखेंगे ताकि आप इसके असली सौन्दर्य को महसूस कर सकें। चाहे आप तैराक न भी हों फिर भी आपके लिए कोई पाबन्दी नहीं है क्योंकि यहां सभी यंत्र मौजूद हैं और आपके साथ एक संचालक मौजूद रहता है जो आपके तैरने के अनुभव को और यादगार बना देते है।


शेल्टर का कोवः  गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

गोवा में शेल्टर जो गोवा का कोव है एक बढिया जगह है जहां आप गोताखोरी का एक शानदार अनुभव कर सकते हैं। एक अद्भुत स्कूबा डाइविंग का अनुभव करने के लिए एक और जगह, शेल्टर का कोव लोकप्रिय समुद्र तट है। शेल्टर के कोव न केवल स्कूबा के लिए एक शानदार अवसर प्रदान करता है, यह स्नॉर्कलिंग के लिए भी एक अच्छी जगह है। यहां हरियाली और नीले समुद्र के अदंर जाकर आप मछलियों संग तैर सकते हैं उनसे बाते कर सकते हैं।


डेवी जोन्स का लॉकरः  गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान
गोवा में यह एक और प्रसिद्ध स्कूबा डाइविंग स्पॉट है। डेवी जोन्स 'लॉकर एक टूटा हुआ धातु मलबा है जो लगभग 14 मीटर गहरा है। इसमें पानी के नीचे दृश्यता छह से आठ मीटर है, इसलिए गोताखोरों को एक अद्भुद अनुभव देने के लिए पानी के नाचे साफतौर पर देखा जा सकता है। पानी के नीचे की जमीन आप स्वंय आसानी से देख सकते हैं। यहां सबसे अधिक देखी जाने वाली मछलियों को गहरे पानी में आसानी से देखा जा सकता है। यहां पाई जाने वाली प्रमुख मछलियों में से टूना, जैक, मुल्लेल्ट इत्यादि हैं। यहां डेवी जोन्स के लॉकर में स्कूबा डाइविंग करने के लिए आपका अनुभवी होना आवश्यक हैं। यह स्थान विशेषतौर पर मछलियो के लिए ही जाना जाता है जहां आप एक से बढ़कर एक मछलियों के साथ तस्वीरे ले सकते हैं।


द जेटीः  गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

जेटी ग्रैंड आइलैंड के उत्तर पश्चिमी में स्थित है। यह जगह अपने थले-पानी पर गोताखोरी के लिए प्रसिद्ध जगह है। यहां पानी की अधिकतम गहराई छह से आठ मीटर के बीच है। यहां पानी में आपकों अनकों समुद्री जीव मिलेंगे जो आपकी इस गोताखोरी के अनुभव को और यादगार बना देंगें।


उमा गुमा का रीफः  गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

उमा गुमा का रीफ ग्रैंड आइलैंड्स के पास के पानी के नीचे स्थित है। यह जगह  आपको अद्भुत समुद्री-दुनिया का शानदार अनुभव कराने के लिए एकदम सही है। उमा गुमा रीफ गोवा में स्कूबा डाइविंग गतिविधियों के लिए एक प्रसिद्ध स्थान है। इसके मुख्य आकर्षण यहां के चट्टान, जैक, सर्जन मछली, टूना, बड़े बारक्यूडास, स्नैपर्स, पोर्क्यूपिन मछली, रीफ शार्क इत्यादि मछलिया और समुद्री जीव हैं। चट्टान के उथले भाग में सुंदर चित्र इस जगह को और अद्भुद बनाते हैं। यहां के चट्टान की गहराई अधिकतम 14 मीटर तक फैली हुई है। तो देर किस बात की अब जब भी आप गोवा आए तो इन स्कूबा डाइविंग जैसी रोमांचकारी गतिविधियों का अनुभव जरुर लें।


हवेलॉकः  अंडमान और निकोबार द्वीप समूह

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

अंडमान निकोबार द्वीप समूह  सौंदर्य की भूमि उन लोगों के लिए सबसे अच्छी जगह है जो अपनी उबाउ जिंदगी में रोमांच के रंग भरना चाहते हैं। यहां कुछ लोग लहरों में उतरते हैं, उनसे टकराते हैं और उनके साथ खेलना पसंद करते हैं। यहां आप समुद्री कछुओं, जेली मछलियों, डगोंग और रंगीन मछलियों को देखने और साथ तैरने का आनंद ले सकते हैं। हिंद महासागर की गहराई का पता लगाने के लिए सबसे प्रसिद्ध द्वीपों में से एक है और सबसे अच्छी जगह हैवॉकॉक द्वीप समूह है। पोर्ट ब्लेयर से 50 किमी लंबी द्वीप में कई डाइविंग साइट हैं और अंडमान में स्कूबा डाइविंग के लिए यह सही स्थानों में से एकमाना जाता है।

यह मज़ेदार समुद्र तट स्कूबा डाइविंग, स्नॉर्कलिंग और समुद्र चलने जैसे पानी के नीचे के खेल का सबसे गहन अनुभव प्रदान करता है। स्कूबा डाइविंग हैवेलॉक में सबसे लोकप्रिय गोताखोरी का खेल है और इच्छुक पर्यटक अद्भुद प्राकृतिक मूंगा चट्टानी क्षेत्रों के आसपास अनुभवी गाइड की मदद से एक शानदार अनुभव ले सकते हैं।

गहरे पानी की दुनिया का पता लगाने का एक और रोमांचक तरीका समुद्र के नीचे तैरना है। हवेलॉक में समुद्र के अंदर पूरे परिवार के साथ आप समुद्री दुनिया का आनंद ले सकते हैं। आप समुद्री चट्टानों से गुजर सकते हैं। मछलियों संग खेल सकते हैं। आप समुद्री दुनिया का अवलोकन कर सकते हैं।
यहां पर स्नॉर्कलिंग बहुमुखी प्रतिभा और पानी के नीचे ब्रह्मांड की विशिष्टता को खोजने का एक और मजेदार तरीका है। हैवेलॉक आपको स्नॉर्कलिंग का अद्भुत मौका देता है जिसके तहत मुंह में श्वांस की नली डालकर आप गहरे पानी में उतर सकते हैं। जहां आप समुद्र के भीतर जाकर वहां की रंगीन दुनिया देख सकते हैं। इस गतिविधि के लिए उचित श्वास उपकरण के साथ आप लगभग 30-40 मिनट के लिए सुंदर चट्टानों और समुद्री जीवों के बीच अलग आनंद ले सकते हैं।


टर्बो सुरंगः  गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

शुरुआती या नौसिखियों के लिए स्कूबा डाइविंग करने के लिए टर्बो सुरंग एक अच्छा स्थान है। यहां पानी की गहराई लगभग सात मीटर है। यहां का पानी एक दम स्पष्ट है। आप पानी के नीचे की गतिविधियों को साफ तैर पर देख सकते हैं। रगं बिरंगी मछलियों और सुंदर जीवों को स्पष्ट रुप से तैरते हुए आप यहां देख सकते हैं। यह अनुभव आपको हमेशा याद रहेगा।


बंगारामः  लक्षद्वीप

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

स्कूबा डाइविंग गतिविधि का आनंद लेने के लिए लक्षद्वीप में बंगाराम सबसे अच्छी जगह है। यहां पूरे द्वीप के आसपास कोरल रीफ है और यह जगह अपने शांत माहौल के लिए जानी जाती है। भारत में स्कूबा डाइविंग का मज़ा उठाने वालों को यहां पानी के नीचे की प्राकृतिक सुंदरता निरंतर कोरल रीफ के साथ बस आश्चर्यजनक है। इसे मालदीव और मॉरीशस जैसे लोकप्रिय समुद्र तट देश के समान माना जाता है। यह साफ तटों में से एक है और कनेक्टिविटी के मामले में यह जगह अच्छी है। यहा भ्रमण करने का सबसे उचित समय अक्टूबर से मार्च के बीच का है। सुंदर मूंगा रीफ द्वारा यह ढंका हुआ है। कोरल के अलावा, पफर मछली, मोरेल ईल्स, भक्त केकड़ों, मंता किरण समुद्री दुनिया के कुछ अन्य अद्वितीय सदस्य हैं, यहां आपकें गोताखोरी के अनुभव को और बढ़ा देंगे।


कल्पनीः लक्षद्वीप

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

फिरोजी नीला पानी और अंतहीन चट्टानें लक्षद्वीप को निर्मल और शांतिपूर्ण बनाती हैं। संस्कृत में लक्षद्वीप का अर्थ है “लाखों द्वीप” और ये सभी द्वीप लाखों वर्षों से विभिन्न प्रवाल गतिविधियों का परिणाम हैं। यह द्वीप 3 चट्टानों के साथ 36 प्रवाल द्वीपों का एक समूह है, जो भारत के बाकी हिस्सों की तुलना में जलीय जीवन को अद्वितीय बनाती हैं। लक्षद्वीप के कल्पानी में गोतोखोरी अवं विभिन्न जल क्रीडा इसे और खास बनाता है। समुद्री जीवन की संपत्ति के बारे में पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका स्कूबा डाइविंग है। यह दुनिया में सर्वाधिक सुंदर स्थलों में से एक माना जाता है। यहाँ पर आप मूँगे, मछलियों का संप्रदाय, कछुओं आदि की अनूठी प्रजातियाँ को देख सकते हैं जो आपने केवल किताबों या नेशनल जियोग्राफिक चैनल पर ही देखा होगा। स्कूबा डाइविंग की मूल बातें जैसे- पानी में पाइप के माध्यम से साँस लेना, गोता लगाना और समुद्र के नीचे की दुनिया को देखने का तरीका और अन्य कई महत्वपूर्ण चीजें सिखने-सिखाने के लिए, पीएडीआई स्कूबा डाइवर्स केवल 20 मिनट का समय लेते हैं। आपको मूँगा की 100 से अधिक प्रजातियाँ और 2,000 से अधिक मछलियों की प्रजातियाँ देखने को मिलेगी।


कदमतः  लक्षद्वीप

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

कदमत द्वीप का शांत समुद्र तट समुद्र की दुनिया की सुंदरता को महसूस करने की सबसे अच्छी जगह है। भारत में स्कूबा डाइविंग स्पॉट को कार्डमम् द्वीप के रूप में भी जाना जाता है। यह लक्षद्वीप के संघ राज्य क्षेत्र से संबंधित एक प्रवाल द्वीप है। इंडिया में स्कूबा डाइविंग के प्रेमियों को यहां समुद्री कछुओं और अन्य विदेशी समुद्री प्रजातियों समेत लाइव कोरल की विभिन्न प्रजातियां है। यह जगह अपनी खूबसूरत जीवों और जीवित कोरल को देखने के लिए है। नवंबर से मार्च का समय यहा घूमने के लिए सबसे सही माना जाता है। इस क्षेत्र में गहरे पानी की दृश्यता 15-40 मीटर है, इसलिए यहां का गोताखोरी का अनुभव और उत्कृष्ट हो जाता है।

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

लक्षद्वीप का सबसे खूबसूरत समुद्र तट कावरत्ती का सुंदर समुद्र तट है। यह लक्षद्वीप द्वीपसमूह के उन कुछ समुद्र तटों में से एक है जहां स्कूबा डाइविंग की अनुमति है। कावरत्ती कोचीन के तट से लगभग 404 किमी दूर मुख्यालय द्वीप है। द्वीप में सुंदर शांत लैगून स्कूबा गोता शुरुआती के लिए आदर्श है। चट्टान के बाहर खुले पानी उतना ही सुंदर है। गोता केंद्र आसानी से प्रवेश द्वार के करीब द्वीप के उत्तरी सिरे पर स्थित है। इसलिए गोता लगाने के लिए गोता लगाने के लिए प्रवेश केंद्र आसान और आसान है। इस द्वीप में गोताखोरों के लिए 10 बिस्तरों वाले रिसॉर्ट हैं। यह अच्छी तरह से कछुए, नरम कोरल शार्क, किरणों और सभी प्रकार की उष्णकटिबंधीय मछलियों के लिए जाना जाता है। हार्बर मु्वाट जैसे गोताखोरों का प्रवेश द्वार के करीब बहुत विशाल सा प्रशंसक, विशालकाय त्रिवेली, गोरगोनियन के साथ प्रचुर मात्रा में है दक्षिणी सिरों पर बुद्धिमान ज़िंग जिंग पार की तरह बड़े शार्क के लिए प्रसिद्ध है, देखा ईगल किरणों को बारकुका विद्यालय गवर्नर्स रीफ पर एक गोता लगाना आकर्षक रंगों के विशेष रूप से चमकदार लाल रंग के विभिन्न प्रकार के नरम कोरल में एक सबक है। द्वीप के उत्तर-पश्चिम की ओर वॉल ऑफ वंडर पर अद्भुत गुफाओं का आनंद ले सकते हैं। कछुए के घोंसले में एक गोता लगाने के सभी अलग-अलग प्रकार के कछुए के लायक हैं। पवन चक्की प्वाइंट में ग्रे रीफ शार्क, स्पॉटेड किरण, बैट फिश और बहुत सारे ग्रुपर्स के साथ आंखों का संपर्क हो सकता है। पैडी प्रमाणित प्रशिक्षकों ने शुरुआती और अनुभवी के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया।


बाउंटी की खाड़ीः गोवा

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

यदि आपने हाल ही मे स्कूबा डाइविंग सिखी है या सिखना चाहते हैं और समुद्री जीवन का आनंद लेना चाहते हैं तो गोवा का बाउंटी आपके लिए एकदम सही जगह है। इसे गोवी की खाड़ी भी कहा जाता है। बाउंटी की खाड़ी में यहां बड़ी संख्या में फ्लोरस और फुना और कोरल मुख्य आकर्षण हैं। किसी भी अन्य समुद्र तटों की तरह, बाउंटी की खाड़ी भी अप्रैल के महीने से अगस्त के महीने में गोतोखोरी के लिए उपलब्ध होती है। यहां पाना के अंदर कई तरह की जल क्रिडाएं की जा सकती हैं।

ग्रांड सेंट्रल स्टेशनः  नेत्रानी द्वीप, कर्नाटक

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

यह छोटा अभी तक सुंदर द्वीप कर्नाटक के भटकल के तट से 10 समुद्री मील स्थित है और स्कूबा डाइविंग और स्नॉर्कलिंग के माध्यम से अरब सागर की गहरी पानी के नीचे की दुनिया की लुभावनी जगहें प्रदान करता है। यह स्थान लोकप्रिय रूप से 'डाइवर पैराडाइज' के रूप में जाना जाता है और इसमें महान बारैकुडा, कछुए, ब्लैक टिप शार्क, नैपोलियन, पत्थर की मछली और स्टिंग्रे की सबसे प्रचुर मात्रा में उपस्थिति है जो समुद्री दुनिया को इतनी रंगीन बना देते हैं कि आप नजरें नहीं हटा पाएगें। जल क्रीडा की गतिविधियों में से अधिकांश को बनाने के लिए आपको अप्रैल से जुलाई के महीनों के दौरान नेत्रानी द्वीप जाना चाहिए। नेत्रानी द्वीप, कर्नाटक नेत्रानी अरब सागर स्थित एक छोटा आईलैंड है। जो कर्नाटक की क्षेत्र सीमा में पड़ता है। स्कूबा डाइविंग के लिए नेत्रानी द्वीप आपके लिए एक आदर्श गंतव्य हो सकता है। नेत्रानी द्वीप उतना प्रसिद्ध पर्यटन क्षेत्र नहीं है पर आप यहां जल क्रीडा का आनंद ले सकते हैं। जानकारी के लिए बता दें यहां 10 से 26 मीटर तक दृश्यता रहती है, जिसके बाद साफ दिखना बंद हो जाता है। इसलिए पूरी जानकारी के साथ आप यहां कदम रखें।


भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

नेत्रानी आईलैंड को कबूतर द्वीप के नाम से भी जाना जाता है। यह जगह भटकल तालुक में मुद्रेश्वर मंदिर से करीब 10 समुद्री मील की दूरी पर स्थित है। यह एक खूबसूरत डाइविंग स्पॉट है, जिसे हार्ट के रूप में आकार दिया गया है। इसे प्यार से इंडिया में स्कूबा डाइविंग का दिल कहा जाता है। भारत में स्कूबा डाइविंग प्रेमियों को यहां पर कोरल, तितली मछली, तोता मछली, ईल्स और चिंप आदि देखने को मिलेंगी। इस आईलैंड पर मुख्य रूप से निर्जन और खड़ी पत्थर है, इसलिए यहां नाव से डाइविंग करना उचित है। यह स्थान गोवा, मुंबई, मैंगलोर और बेंगलुरु से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है और दिसंबर से लेकर जनवरी यहां सबसे उचित समय है। यहां आपकों कई प्रकार के मल्टी ह्यूड स्लग, एंजल मछली, तोता मछली, तितली मछली और सर्जेंट इत्यादि कई किसमों की मछलियां और अन्य समुद्री जीव देखने को मिल जाएगें। एबी का नेट्रानी द्वीप समूह में सबसे गहरा डाइविंग बीच है, जिसे समुद्री फूलों और फूनों की एक विशाल किस्म के आवास के लिए एबी के एक्वेरियम के रूप में भी जाना जाता है। एबी की अधिकतम गहराई 35 मीटर है। गहराई पर्यटकों के लिए अरब सागर के मोहक पानी के नीचे का अनुभव करने के लिए एक अद्भुत स्पष्ट दृश्यता बनाता है।

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

एबी कर्नाटक के नेत्रानी द्वीप समूह में सबसे गहरा डाइविंग का स्थल है। जिसे समुद्री फूलों     और समुद्री जल-जीवों के विशाल किस्मों की निवास के रुप में जाना जाता है। इसे एबी के एक्वेरियम के रूप में भी जाना जाता है। एबी की अधिकतम गहराई 35 मीटर है। यह गहराई पर्यटकों के लिए अरब सागर के मोहक पानी के नीचे का अनुभव करने के लिए एक अद्भुत स्पष्ट दृश्यता प्रदान करती है। आप यहां स्कूबा डाइविंग के जरिए गहरे पानी के बीच रंग-बिरंगी मछलियों और समुद्री पौधों के साथ तैरने का आनंद ले सकते हैं।
 

पुदुच्चेरी

भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

पूर्वी तट के साथ एकमात्र स्कूबा डाइविंग बीच पुदुच्चेरी में है। पूर्वी तट के पानी की वर्तमान और असमानता आमतौर पर जल क्रीडा के अवसर प्रदान नहीं करती है, लेकिन पुदुच्चेरी के समुद्र तट गहरे पानी की दुनिया की खोज के लिए और इसकी प्यास बुझाने के लिए कुछ अच्छी सुविधाएं प्रदान करता है। यहां के गहरे पानी की दृश्यता पांच से चालीस मीटर तक बनी हुई है और इस तरह की अच्छी दृश्यता के कारण दिलचस्पी रखने वाले उत्साही लोगों को बंगाल की खाड़ी की यह सबसे सुंदर जगह है। यह पुदुच्चेरी के सबसे अच्छे स्कूबा डाइविंग स्पॉट्स में से एक है। इसके इतने प्रसिद्ध होने का कारण है समुद्र की गहराई, जो 5 मीटर से 23 मीटर तक गहरी है। जिससे खूबसूरत साइट्स का आनंद लेने के साथ ही शुरुआती और विशेषज्ञ दोनों को सक्षम बनाता है। यहां आने का सबसे उचित समय मार्च से अक्टूबर के बीच का है, क्योंकि इस समय समुद्र का पानी शांत और ठंडा रहता है। जिससे इंडिया में स्कूबा डाइविंग स्पॉट का जमकर मज़ा उठाया जा सकता है।

To read this article in English Click here
930
  • SHARE THIS
  • TWEET THIS
  • SHARE THIS
  • COMMENT
  • LOVE THIS 0

Related Links

Comments / Discussion Board - भारत में रोमांचक जल क्रीड़ा के सर्वोत्तम स्थान

Loader